11

Aapki Avaaz

Follow us on:

Follow us on:

जनरल बिपिन रावत ने सेना के आधुनिकीकरण के लिए अहम भूमिका निभाई : श्रीमहन्त रविन्द्रपुरी

  • सरकार से अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद करेगा जनरल बिपिन रावत को भारत रत्न देने की मांग
आपकी आवाज़ संवाददाता
हरिद्वार। 8 दिसम्बर को तमिलनाडू के कुन्नूर में विमान क्रेश में देश के प्रथम चीफ आफ डिफेंस स्टाफ सीडीएस जनरल बिपिन रावत, उनकी धर्मपत्नी मधुलिका रावत सहित 13 अन्य वीर जवानों की आकस्मिक मृत्यु पर श्रद्धाजंलि देने के लिए एस.एम.जे.एन. काॅलेज में एक शोक सभा आयोजित कर मृतकों को भावुक क्षणों में अश्रुपूरित श्रद्धाजंलि अर्पित की। शोक सभा को सम्बोधित करते हुए अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष व काॅलेज प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष श्रीमहन्त रविन्द्रपुरी ने जनरल बिपिन रावत, उनकी धर्मपत्नी और दिवंगत आत्माओं की शान्ति और परिजनों को धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना करते हुए कहा कि देश के रक्षा प्रमुख उत्तराखण्ड के वीर सपूत जनरल बिपिन रावत देश के गौरव थे। श्रीमहन्त ने कहा कि जनरल बिपिन रावत ने सेना के आधुनिकीकरण के लिए अहम भूमिका निभाई। श्रीमहन्त ने अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद व काॅलेज परिवार की ओर जनरल बिपिन रावत को भारत सरकार से भारत रत्न देने की मांग भी की। उन्होंने कहा कि इसके लिए काॅलेज के छात्र-छात्राओं का हस्ताक्षरयुक्त ज्ञापन भी भारत सरकार को प्रेषित किया जायेगा। शोक सभा में उपस्थित पूर्व कमाण्डर आमोध चौधरी ने कहा कि जनरल बिपिन रावत सेना को खुलकर कार्यवाही करने का अधिकार दिलाने के लिए हमेशा मुखर रहे, जिसका असर सीमाओं पर प्रभारी रुप से नजर भी आया। उन्होंने भारतीय सेना में चार दशक की निस्वार्थ सेवा में असाधारण वीरता का परिचय दिया। चौधरी ने भावुक मन से कहा कि उत्तराखण्ड का बेटा देश का पहला सीडीएस है, यह सोचकर ही हम सब उत्तराखण्डवासी गौरवान्वित हो जाते थे। प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने अपनी अश्रुपूरित श्रद्धाजंलि अर्पित करते हुए कहा कि सीडीएस किसी भी देश के सम्पूर्ण सैन्यबल का कमाण्डर होता है। बिपिन रावत इस भूमिका का बहुत ही शानदार तरीके से निवर्हन कर रहे थे। सैन्य रणनीतिक लिहाज से उनकी महत्ता को देखते हुए उन्हें सेना की सर्वोच्च जिम्मेदारी मिली थी। डाॅ. बत्रा ने कहा कि श्री रावत ने उत्तराखण्ड राज्य पूर्व सैनिकों की समस्याओं, उनके पुनर्वास, शहीद आश्रितों के परिजनों की सहायता को लेकर काफी गम्भीरता से रिपोर्ट ली। शोक सभा में मुख्य अनुशासन अधिकारी डाॅ. सरस्वती पाठक, डाॅ. संजय कुमार माहेश्वरी, डाॅ. जगदीश चन्द्र आर्य, रिंकल गोयल, डाॅ. सुगन्धा वर्मा, डाॅ. अमिता श्रीवास्तव, अन्तिम त्यागी, डाॅ. आशा शर्मा, डाॅ. मोना शर्मा, विनीत सक्सेना, डाॅ. प्रज्ञा जोशी डाॅ. पदमावती तनेजा, रिचा मिनोचा, वैभव बत्रा, मोहन चन्द्र पाण्डेय सहित छात्र-छात्राओं ने अपनी भावभीनी श्रद्धाजंलि अर्पित की। अंत में मृतकों की आत्मा की शान्ति के लिए दो मिनट का मौन रखा गया।

Live News

Live weather Update

Market Live

Live Cricket Score

Rashfal

Covid Updates

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
44,606,460
Recovered
0
Deaths
528,754
Last updated: 8 minutes ago

Related posts -